WATCH

गुरुवार, 20 फ़रवरी 2014

Roshi: हाय री किस्मत

Roshi: हाय री किस्मत: बचपन से ही पाथते रहे ईटें ,वो बच्चे भट्टों पर देखते गुजरती रही उम्र ईंटों को उनकी भट्टों पर सबके आश्याने वास्ते हाथों से बन गयीं लाखों ईट...

कोई टिप्पणी नहीं: