WATCH

गुरुवार, 6 अगस्त 2015

Roshi: सावन

Roshi: सावन: सुना है हमने किसी को  कहते  कि सावन का महीना आ गया है पर हमने ना देखा गरजती -बरसती बदरिया, ना देखे नभ में घुमड़ते मेघ ना दीखी कोई ताल -तलई...

कोई टिप्पणी नहीं: